लोग कहेते हे मै दर्द की दुकान हु , पर दर्द बटोरना भी तो खुशी का काम है….! !

– अभिजीत

Advertisements