Category: Random Lines By Abhijeet


Random 11

तेरी सादगी ने हल्ला मचा दिया मेरे दिल पे ,तेरी सादगी ने हल्ला मचा दिया मेरे दिल पे ;
दिल सोचे कि दिमाग को पुछु , दिमाग बोला दिल तेरी तो लग गइ …

– अभिजीत

Random 10

નજર મા જેટલા ઉપર હતા તેટલાજ નીચે આયા છે..,
જ્યાથી શરુઆત થયેલી ત્યાંજ પાછા આયા છે..!!

– અભિજીત

Random 09

इतना काबु मे रख गुस्से को अपने
“अभिजीत ”
कि गुस्सा तडप तडप क बोले माफ कर दे मेरे आका ,
तेरी मरझी के बगैर नही निकलुंगा तुजसे मै ….!

– अभिजीत

Random 08

नफरत की आरजु दिल मे जागी है आज ,
पता नही किस तरफ ले जयेगी ये हवा दिल ए नादान को…!!!

– अभिजीत

हा है बचपना मुजमे इसिलिये तो खुश हुं…
क्या उखाड लिया तुमने गंभिर हो के….!!!

– अभिजीत

इतने वक्त से कोइ रुठा नहीं तो मै मनाना भी भूल गया….!!

अधुरी कहानीयां हमेशां दिलचस्प होती है , बस उनके लिये नहीं जिनकी कहानी होती है..!!

– अभिजीत

मेरी सोने की वजह ही यही है की सपने में तू आये , सुबह की हकीकत से तो वैसे भी वाकिफ हु …!!!

– अभिजीत

Random 03

प्यार से इतनी बैइजती होने दि है खुद की , कि अब तो बैइजती भि रुख मोड के केह्ती है,
माफ कर दे मुजे  ए इंसान तु मेरे काम की चिज नहिं है,..!!

– अभिजीत

Random 02

તારી સજા એજ છે કે તને કોઇ સજા નઈ આપુ …..

– અભિજીત

%d bloggers like this: