Latest Entries »

Random 02

તારી સજા એજ છે કે તને કોઇ સજા નઈ આપુ …..

– અભિજીત

हसी

मेरी हसी ही मेरी खुशी है , मेरी हसी ही मेरा गम
मेरी हसी ही तो है दर्द मेरा ,मेरी हसी ही तो है मरहम …

समजने वाली बात ये है की ..
मेरी हसी मेरी पेहचान है और मेरी हसी ही मेरा राज

– अभिजीत

“राम भी है मुजमे रावण भी,
प्यार भी करता हु नफरत भी,

एहसान भी चुकाता हु बदला भी,
वोह केह्ते है ना जैसे लोग वैसा तरीका ….
मजे भी उडाता हु और होश भी…..!!”

– अभिजीत

लोग कहेते हे मै दर्द की दुकान हु , पर दर्द बटोरना भी तो खुशी का काम है….! !

– अभिजीत

Random 12

સંગીત મા દર્દ હોય કે દર્દ મા સંગીત હોય , મજા તો બન્ને અવસ્થા મા આવે છે….!!!
– અભિજીત

बरबादीओ का इतना जशन मनाया हमने कि ,
बरबादी भी हमारी शख्शियत को देख के बरबाद हो गई…!!!

– अभिजीत

इन्सान है रंग तो बदलेगा ही…

क़भी कोइ खुदगर्झ होके रंग बदलता है,
तो कोइ मजबुर होके रंग बदलता है,

कोइ प्यार कर के रंग बदलता है ,
तो कोइ नफरत करके….

इन्सान है रंग तो बदलेगा ही…

– अभिजीत

बे-लिबास हसरतो का क्या करे,
दिल मे झाकने वाले को अपना मान लेती है….!!!!

– अभिजीत

ભુલ થી થયેલો પ્રેમ મનુષ્ય ની દિશા બદલી નાખે છે ,

દિશા સાચી હોય તો દુનીયા બદલી નાખે છે,

પરન્તુ જો દિશા મા ભુલો પડ્યો તો મનુષ્ય ની દશા બદલી નાખે છે… !!!

 

– અભિજીત

वजह नहि हे तुजसे प्यार करने के लिये,

वजह तो हे सिर्फ तेरे दिदार के लिये ;

जिते-जी ना मिलि तो गम नहि होगा ,

पर मर के खुलि रखुन्गा आंखे तेरे दिदार के लिये.

– अभिजीत

%d bloggers like this: